Connect with us

धर्म

Dhanteras 2023: कोई पूछे इससे पहले जान लो आखिर क्यों मनाया जाता है धनतेरस का पर्व ?

Published

on

धनतेरस, जिसे ‘धनत्रयोदशी’ भी कहा जाता है ये भारतीय त्योहारों में से एक है। इस दिन  हम संपत्ति और सेहत की देवी, माँ लक्ष्मी और धन के देवता “कुबेर” की पूजा करते हैं। यह दिवाली के पांच दिन के उत्सव का प्रारंभिक दिन होता है। इस दिन लोग सोने-चांदी के आभूषण और नए बर्तन खरीदते हैं जो अच्छी किस्मत और समृद्धि का प्रतीक माना जाता है।

धनतेरस का महत्व

धनतेरस का दिन न केवल धन की बरकत के लिए महत्वपूर्ण है बल्कि यह स्वास्थ्य और अच्छे भाग्य के लिए भी पूजा करने का दिन है। इस दिन आयुर्वेद के देवता धन्वंतरि को भी याद किया जाता है जिन्होंने समुद्र मंथन से अमृत कलश लाकर मानवता को एक अच्छे स्वास्थ्य का उपहार दिया था। इसलिए इस दिन को नया व्यापार शुरू करने एवं नए उपकरण खरीदने और निवेश करने के लिए शुभ माना जाता है।

ये भी पढ़ें :Dhanteras 2023: धनतेरस पर भूल कर भी न करें ये 10 गलतियां

Advertisement

धनतेरस पर आप क्या- क्या कर सकते हैं?

माँ लक्ष्मी और भगवान कुबेर की मूर्तियों को साफ करके उनकी पूजा करें।

अपने घर में और दुकान में दीये जलाकर नेगेटिविटी को दूर करें।

इस दिन सोने-चांदी के आभूषण या नए बर्तन खरीदने का भी अपना महत्व है।

Advertisement

गरीबों को दान करना और उनकी मदद करना भी इस दिन की खूबसूरती को बढ़ाता है।

ये भी पढ़ें : Dhanteras 2023: धनतेरस पर न करें गलती, जानें पूजा करने की सही विधि

धनतेरस का पर्व अपने साथ समृद्धि और सुख-शांति लेकर आता है। इस शुभ अवसर पर हम आपको और आपके परिवार को धनतेरस की हार्दिक शुभकामनाएँ देते हैं। माँ लक्ष्मी आपके घर में सुख-समृद्धि लेकर आएं और आपके जीवन को खुशहाल बनाएं।

Advertisement
Continue Reading
Advertisement
2 Comments

2 Comments

  1. Pingback: Dhanteras 2023: धनतेरस पर भूल कर भी न करें ये 10 गलतियां - Ambe Bharati

  2. Pingback: Dhanteras 2023: धनतेरस पर न करें गलती, जानें पूजा करने की सही विधि - Ambe Bharati

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *