Connect with us

विदेश

8 गजब चीजें जो आप लक्षद्वीप में कर सकते हैं

Published

on

भारतीय महासागर की नीली लहरों में बसा लक्षद्वीप एक ऐसा स्थान है जो अपनी अद्भुत सुंदरता, शांत वातावरण और अनछुए समुद्री तटों के लिए जाना जाता है। यह भारत का एक छोटा सा द्वीप समूह है जो केरल के तट से कुछ ही दूरी पर स्थित है। जहां एक ओर मालदीव अपनी विलासिता और अत्याधुनिक सुविधाओं के लिए प्रसिद्ध है, वहीं लक्षद्वीप अपनी सादगी, प्राकृतिक सौंदर्य और शांति के लिए जाना जाता है।

हाल ही में, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लक्षद्वीप का दौरा किया, जिसने न केवल राष्ट्रीय बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी चर्चा को जन्म दिया। इस यात्रा के कई पहलू थे – एक ओर जहां इसे विकास और प्रगति की दिशा में एक कदम के रूप में देखा गया, वहीं दूसरी ओर इसने कई विवादों और इंटरनेट पर युद्ध को भी जन्म दिया।

Advertisement

प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा का मुख्य उद्देश्य लक्षद्वीप के विकास कार्यों की समीक्षा करना और द्वीप समूह के लिए नई परियोजनाओं की घोषणा करना था। इसमें टूरिज्म, इंफ्रास्ट्रक्चर, और स्थानीय समुदायों के लिए सुविधाओं के विकास पर जोर दिया गया था।

हालांकि, इस यात्रा ने इंटरनेट पर कई विवादों को भी जन्म दिया। कुछ लोगों ने इसे लक्षद्वीप की प्राकृतिक सुंदरता और संस्कृति को बदलने की कोशिश के रूप में देखा। वहीं, कुछ ने इसे विकास की दिशा में एक सकारात्मक कदम के रूप में स्वीकार किया। इस दौरान, इंटरनेट पर कई रेसिस्ट कमेंट्स और आरोप-प्रत्यारोप भी देखने को मिले।

Advertisement

मालदीव सरकार के मंत्रियों ओर मालदीव के लोगों की तरफ से पीएम मोदी ओर भारत के निवासियों और उनकी संस्कृति के प्रति असंवेदनशील टिप्पणियां कीं। ये कमेंट्स न केवल अनुचित थे, बल्कि उन्होंने एक व्यापक सामाजिक और राजनीतिक बहस को भी जन्म दिया। इसने भारत के लोगों की भावनाओं को आहत किया।

इस कारण मालदीव का भारतीय लोगों ने बहिष्कार किया जिस कारण मालदीव को टुरिज़म सेक्टर मे काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है। मालदीव में होटल मालिकों ओर विक्रेताओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आपको बात दे की मलदीवे की सरकार ने चुनाव से पहले इंडिया आउट का नारा दिया था, इसके बाद से ही मालदीव को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है लेकिन अब मलदीव सरकार के इस हरकत के बाद वहाँ के लोगों की मुश्किलें ओर बढ़ गई।

Advertisement

आइए जानते हैं की आखिर लक्षद्वीप टुरिज़म की दृष्टि से मालदीव से बेहतर क्यूँ हैं-

लक्षद्वीप की सबसे बड़ी विशेषता है इसका अछूता प्राकृतिक सौंदर्य। यहां के सफेद रेतीले समुद्र तट, नीले पानी, और हरे-भरे नारियल के पेड़ आपको एक अलग ही दुनिया में ले जाते हैं। यहां का शांत और सुखद वातावरण मालदीव की भीड़भाड़ और शोर-शराबे से कहीं अधिक शांतिपूर्ण है। लक्षद्वीप में समुद्री जीवन की विविधता देखने को मिलती है। यहां के साफ पानी में गोताखोरी करते समय आपको रंग-बिरंगी मछलियां, कोरल, और अन्य समुद्री जीव देखने को मिलेंगे जो मालदीव के समुद्री जीवन से किसी भी मामले में कम नहीं हैं।

लक्षद्वीप की संस्कृति और जीवनशैली बहुत ही सरल और प्राकृतिक है। यहां के लोग अपनी परंपराओं और रीति-रिवाजों को महत्व देते हैं। यहां का स्थानीय भोजन, नृत्य, और संगीत मालदीव की तुलना में अधिक पारंपरिक और अनूठा है। लक्षद्वीप में पर्यटन अभी भी विकास के शुरुआती चरण में है, जिसका मतलब है कि यहां आपको वह शांति और सुकून मिलेगा जो अक्सर अधिक विकसित पर्यटन स्थलों में नहीं मिलता। यहां के लोग पर्यटकों का स्वागत गर्मजोशी से करते हैं और उन्हें अपनी संस्कृति से परिचित कराने में खुशी महसूस करते हैं।

Advertisement

लक्षद्वीप में पर्यावरणीय संरक्षण को बहुत महत्व दिया जाता है। यहां के द्वीपों और समुद्री जीवन की रक्षा के लिए कई पहल की गई हैं। इसके विपरीत, मालदीव में पर्यटन के बढ़ते दबाव के कारण पर्यावरणीय संकट एक बड़ी चिंता बन गई है।

8 गजब चीजें जो आप लक्षद्वीप में कर सकते हैं

  1. स्नोर्कलिंग और स्कूबा डाइविंग: लक्षद्वीप के साफ और नीले पानी में स्नोर्कलिंग और स्कूबा डाइविंग करना एक अद्भुत अनुभव है। यहां के समुद्र में विविध प्रकार की मछलियां, कोरल रीफ्स और अन्य समुद्री जीव देखने को मिलते हैं।
  2. कायाकिंग और कैनोइंग: शांत और साफ पानी में कायाकिंग और कैनोइंग करना भी एक शानदार अनुभव हो सकता है। यह आपको द्वीपों के आसपास के प्राकृतिक सौंदर्य का नजदीक से अनुभव करने का मौका देता है।
  3. समुद्र तट पर आराम करना: लक्षद्वीप के समुद्र तट बेहद शांत और सुंदर होते हैं। यहां आप सूर्यास्त देख सकते हैं, सूर्योदय का आनंद ले सकते हैं, या बस रेत पर आराम कर सकते हैं।
  4. वाटर स्पोर्ट्स: जेट स्कीइंग, विंडसर्फिंग, और वाटर स्कीइंग जैसे वाटर स्पोर्ट्स का आनंद लेने के लिए भी लक्षद्वीप एक उत्तम स्थान है।
  5. सांस्कृतिक अनुभव: लक्षद्वीप की संस्कृति और रीति-रिवाजों को जानने के लिए स्थानीय गांवों का दौरा करें। यहां के लोगों से मिलें और उनके जीवनशैली को समझें।
  6. द्वीप यात्रा: विभिन्न द्वीपों की यात्रा करें और प्रत्येक द्वीप की अपनी अनूठी सुंदरता का अनुभव करें।
  7. पक्षी निरीक्षण: यदि आप पक्षी प्रेमी हैं, तो लक्षद्वीप में कई प्रकार के पक्षियों को देखने का मौका मिलेगा।
  8. स्थानीय भोजन का आनंद: लक्षद्वीप के स्थानीय व्यंजनों का स्वाद चखें, जिसमें समुद्री भोजन और कोकोनट आधारित डिशेज शामिल हैं।

    8 Things You Can Do In Lakshadweep

    8 Things You Can Do In Lakshadweep

आइए लक्षद्वीप के इतिहास को जाने

लक्षद्वीप का इतिहास रहस्यमयी और विविधतापूर्ण है। यह भारतीय महासागर में स्थित एक छोटा सा द्वीप समूह है, जिसमें 36 द्वीप शामिल हैं। इसका इतिहास और संस्कृति विभिन्न शासकों, यात्रियों और समुदायों के प्रभाव से निर्मित हुई है। लक्षद्वीप का उल्लेख प्राचीन हिन्दू ग्रंथों में भी मिलता है, जहां इसे ‘लक्षद्वीपा’ के नाम से जाना जाता था। कुछ विद्वानों का मानना है कि ये द्वीप वैदिक काल में भी ज्ञात थे। हालांकि, इन द्वीपों के शुरुआती निवासियों के बारे में बहुत कम ठोस जानकारी है। मध्यकालीन काल में, लक्षद्वीप विभिन्न नौवहन मार्गों का हिस्सा था। इस दौरान अरब व्यापारी यहां आया करते थे, और इस्लाम धर्म का प्रसार इन्हीं व्यापारियों के माध्यम से हुआ माना जाता है। 16वीं शताब्दी में पुर्तगालियों के आगमन के साथ ही यूरोपीय प्रभाव भी देखने को मिला। 18वीं शताब्दी में ब्रिटिश इंडिया कंपनी ने इन द्वीपों पर नियंत्रण स्थापित किया। ब्रिटिश राज के दौरान लक्षद्वीप को अमिनीवी द्वीप समूह के नाम से जाना जाता था। ब्रिटिशों ने यहां नारियल की खेती और अन्य व्यापारिक गतिविधियों को बढ़ावा दिया।  1947 में भारत की स्वतंत्रता के बाद, लक्षद्वीप भारतीय संघ का हिस्सा बन गया। 1956 में इसे केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया। आजादी के बाद से लक्षद्वीप में कई सामाजिक-आर्थिक विकास हुए हैं, जिसमें शिक्षा, स्वास्थ्य सेवाएं, और पर्यटन का विकास प्रमुख हैं।

यदि आप एक शांतिपूर्ण, प्राकृतिक और अनछुए स्थान की तलाश में हैं जहां आप प्रकृति के साथ सामंजस्य बिठा सकें और जीवन की सरल खुशियों का आनंद ले सकें, तो लक्षद्वीप आपके लिए एक आदर्श स्थान है। यहां की सुंदरता, संस्कृति, और पर्यावरणीय संरक्षण की पहल इसे मालदीव से भी बेहतर बनाती हैं। तो आइए, लक्षद्वीप की यात्रा करें और इस अद्भुत द्वीप समूह की अनछुई सुंदरता का अनुभव करें।

Advertisement