Connect with us

खेल

खुशखबरी : Gautam Gambhir की IPL में वापसी!

Published

on

भारत के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर के फैंस के लिए एक अच्छी खबर है। गौतम गंभीर की एक बार फिर से आईपीएल में वापसी हो गई। गौतम गंभीर ने अपने ट्विटर पर एक पोस्ट लिख के बताया की वो  कोलकाता नाइट राइडर्स के मेंटोर होंगे।

आपको बता दें कि इससे पहले गौतम गंभीर लखनऊ सुपर जायंट्स टीम के मेंटोर की भूमिका निभा रहे थे हालांकि लखनऊ की टीम के मेंटोर पद को गंभीर ने छोड़ दिया है। अपने ट्विटर पोस्ट में kkr की जर्सी पहने हुए पोस्ट करके गौतम ने कहा कि मैं वापस आ गया हु।  

Advertisement

गौतम गंभीर एक महान खिलाड़ी है, आज हम आपको उनके क्रिकेट का सफरनामा बताएँगे। गौतम गंभीर का क्रिकेट करियर और उनका आईपीएल सफर कुछ इस प्रकार है। 

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर:

Advertisement
  1. शुरुआत: गंभीर ने 2003 में अपना अंतरराष्ट्रीय डेब्यू किया। वे बाएं हाथ के बल्लेबाज थे और उन्होंने अपनी तकनीक और आक्रामक बल्लेबाजी से जल्द ही सभी का ध्यान आकर्षित किया।
  2. उपलब्धियां: गंभीर ने टेस्ट और वनडे दोनों प्रारूपों में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने विश्व कप 2011 के फाइनल में 97 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थी, जिससे भारत को विश्व विजेता बनने में मदद मिली।
  3. प्रमुख योगदान: गंभीर को उनके निरंतर प्रदर्शन और महत्वपूर्ण मैचों में योगदान के लिए जाना जाता है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में कई शतक और अर्धशतक लगाए हैं।

आईपीएल करियर:

  1. शुरुआती साल: गंभीर ने आईपीएल की शुरुआत 2008 में दिल्ली डेयरडेविल्स के साथ की। उन्होंने शुरुआती सीजन में ही अपनी क्षमता साबित की।
  2. कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ सफलता: गंभीर को 2011 में कोलकाता नाइट राइडर्स ने खरीदा। उन्हें टीम का कप्तान बनाया गया और उनके नेतृत्व में केकेआर ने 2012 और 2014 में आईपीएल खिताब जीते।
  3. एक प्रेरणादायक कप्तान: गंभीर की कप्तानी की सबसे बड़ी खासियत उनका आक्रामक और स्पष्ट नेतृत्व था। वह टीम के लिए अपने उत्साह और जोश को लाते थे। उनकी कप्तानी में, केकेआर ने कई युवा प्रतिभाओं को निखारा और एक मजबूत टीम बनाई।
  4. प्रभावशाली प्रदर्शन: आईपीएल में गंभीर के प्रदर्शन ने उन्हें एक शीर्ष खिलाड़ी के रूप में स्थापित किया। उन्होंने कई महत्वपूर्ण पारियां खेलीं और अपनी टीम को कई जीत दिलाई।
  5. आईपीएल के बाद का करियर: आईपीएल में अपने सफल करियर के बाद, गंभीर ने धीरे-धीरे अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट से संन्यास ले लिया। वे वर्तमान में वो क्रिकेट से संबंधित विश्लेषण और कमेंट्री में सक्रिय हैं।

गौतम गंभीर का क्रिकेट करियर न केवल उनके व्यक्तिगत प्रदर्शन के लिए, बल्कि एक टीम कप्तान  के रूप में उनके योगदान के लिए भी जाना जाता है। उनका करियर युवा खिलाड़ियों के लिए एक प्रेरणा और उदाहरण के रूप में हमेशा याद किया जाएगा। https://x.com/GautamGambhir/status/1727207189063077902?s=20